जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा (Handwara) में हुए आतंकी मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए बिहार के लाल औरंगाबाद के सीआरपीएफ कांस्टेबल शहीद संतोष कुमार मिश्रा का पार्थिव शरीर विशेष विमान से आज गया इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरा। जहां सीआईएसएफ के आईजी राजकुमार, डीएम अभिषेक सिंह, एसएसपी राजीव मिश्रा, एयरपोर्ट के मुख्य सुरक्षा अधिकारी बलवंत कुमार व इंस्पेक्टर पीयूष कुमार ने श्रद्धजलि दी। उसके बाद तिरंगे में लिपटा शव औरंगाबाद जिले के गोह प्रखंड के देवहारा उनके पैतृक गांव के लिए रवाना हुआ, जहां आज राजकीय समारोह के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया।

शव पहुंचने पर पूरा गांव शहीद के अंतिम दर्शन को उमड़ा पड़ा। जिस रास्ते से उनके शव का वाहन लाया जा रहा था सड़क के दोनों ओर काफी संख्या में लोग खड़े थे। भारत मात की जय के जयकारे से पूरा इलाका गूंज रहा था। शहीद संतोष अमर रहें के नारे लग रहे थे। शव के घर पहुंचते ही परिजनों की चीख-पुकार मच गई। शहीद को पूरे गांव ने भावभीनी श्रद्धांजलि दी। फिर पूरी सम्मान के साथ शहीद संतोष मिश्रा का अंतिम संस्कार किया गया। जब उनके चार साल के बेटे ने पिता को मुखाग्नि दी, पूरा गांव ये दृश्य देखकर रो पड़ा।